‘शक्ति 2024’: भारत-फ्रांस की संयुक्त सैन्य अभ्यास

0 Comments

भारत और फ्रांस के बीच साझा सैन्य अभ्यासों का आयोजन एक महत्वपूर्ण कदम है जो दोनों देशों के रक्षा संबंधों को मजबूत करने में मदद करता है। उमरोई क्षेत्र में आयोजित ‘शक्ति’ नामक संयुक्त सैन्य अभ्यास भारतीय और फ्रांसीसी सेनाओं के बीच मेघालय में 13 से 26 मई, 2024 के बीच होने वाला है। यह अभ्यास दोनों देशों के रक्षा संबंधों को और भी मजबूत करने का लक्ष्य रखता है।

इस संयुक्त सैन्य अभ्यास का महत्वपूर्ण आधार भारतीय और फ्रांसीसी सेनाओं के बीच तात्कालिक रक्षा संबंधों को विकसित करना है। इसके माध्यम से वे आपस में समझौते, सहयोग और तकनीकी ज्ञान को साझा कर सकते हैं। इस अभ्यास के माध्यम से सैनिकों को अलग-अलग समस्याओं का सामना करने और समाधान निकालने का अवसर मिलेगा।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान की फ्रांस यात्रा से पता चलता है कि यह संयुक्त सैन्य अभ्यास महत्वपूर्ण और उत्तेजक है। इसमें भारतीय सेना के सदस्यों को नई तकनीकों का अध्ययन करने और उनका अभ्यास करने का अवसर मिलेगा।

भारत और फ्रांस के बीच सैन्य अभ्यास का आयोजन रक्षा संबंधों में अधिक सहयोग और समन्वय को प्रोत्साहित करता है। यह दोनों देशों के बीच भाईचारे को भी मजबूत करता है और एक-दूसरे के साथ बेहतर समझौते की साधना करता है।

इस प्रकार, ‘शक्ति’ संयुक्त सैन्य अभ्यास एक महत्वपूर्ण कदम है जो भारत और फ्रांस के बीच रक्षा संबंधों को मजबूत करने में मदद करेगा। यह साझा अभ्यास दोनों देशों के सैनिकों को एक-दूसरे के साथ समन्वयित कार्रवाई करने का अवसर प्रदान करेगा और सुरक्षा प्रणालियों को और भी मजबूत बनाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.